भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को मर्डर केश से बचाने बापसी हुई थी

Posted On : 2017-02-17 13:07:57     Update On : 2017-02-17 13:09:51

  भोपाल में रामजेठमलानी ने दिया विवादित बयान

2017-02-17 13:07:57

अपने विवादित बयानों से चर्चा में रहने वाले देश के जाने माने वकील और पूर्व भाजपा नेता राम जेठमलानी ने भोपाल में फिर एक खुलासा करते हुए भाजपा पर निसाना साधा है। जेठमलानी ने कहा है कि 2010 में भाजपा में उनकी वापसी अमित शाह को मर्डर केस से बचाने के लिये हुई थी।
राम जेठमलानी आज लॉ यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम मूट कोर्ट के लिये भोपाल आये हैं। पत्रकारों से चर्चा करते हुए उनके निसाने पर भाजपा ही रही। उन्होंने  प्रधानमंत्री मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि मोदी ने देश की जनता के साथ किये वादे पूरे नहीं किये हैं।  मोदी अपने किये वादों में फेल हुए हैं मोदी से अपील की मुझे आप से कुछ नहीं चाहिए आप जनता से किया वादा पूरा करो।

भाजपा पर निसाना

वही पार्टी पर निसाना लगाते हुए कहा कि 2004 से 2019 तक मुझे बीजेपी से निकाला गया लेकिन 2010 में मुझे बीजेपी में फिर वापसी का न्योता मिला तब में समझ नहीं पाया और मुझे बीजेपी में जाने के बात पता चला की अमिय शाह की पेरवी के लिए मुझे वापस लिया गया जो मर्डर केस में आरोपी थे।
कालेधन पर सब साथ साथ
जेठमलानी ने  रामजेठमलानी ने पिछली और वर्तमान दोनों केंद्र सरकारों पर काले धन वालो से मिलीभगत का आरोपी लगाया।दोनों सरकार को घेरते हुए कहा कि जर्मन सरकार ने 2008 में स्विस बैंक से 400 लोगों की लिस्ट निकालवाई थी। और उसे भारत सरकार से साझा करने को भी तैयार थी लेकिन भारत सरकार ने उसमे रूचि नही दिखाई। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने स्विस सरकार से काले धन पर कोई जानकारी नही मांगी। रामजेठमलानी ने पिछली और वर्तमान दोनों केंद्र सरकारों पर काले धन वालो से मिलीभगत आ भी आरोप लगाया।

अखिलेश की तारीफ

राम जेठ मलानी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर कहा कि यह चुनाव देश की राजनीती की दिशा तय करेगा। हालांकि अखलेश यादव एक बेहतर उम्मीदवार हैं और अखलेश ने व्यक्तिगत रूप से बहुत बेहतर काम किया ।


- Advertisement -