प्रदेश सरकार व्यापम घोटाले के लिये जिम्मेदार- कैग

Posted On : 2017-03-25 16:15:54     

  CAG की रिपोर्ट के बाद सरकार बैकफुट पर

2017-03-25 16:15:54

नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक - कैग ने मध्य प्रदेश सरकार पर पिर सवालिया निसान लगा दिया है। रिपोर्ट में मध्यप्रदेश व्यावसायिक परीक्षा मंडल -व्यापम में संचालक एवं नियंत्रक की नियुक्ति नियमों की सुनियोजित तरीके से अनदेखी करते हुए की थी। इन्ही लोगों ने कुछ व्यक्तियों को अनुचित लाभ दिया और व्यापम द्वारा आयोजित परीक्षाओं की विश्वसनीयता में गंभीर कमी भी आई थी।

प्रदेश में व्यापम द्वारा कराई जाने वाली मेडिकल एवं इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश परीक्षा तथा विभिन्न सरकारी नौकरियों के लिये की गई भर्ती परीक्षाओं में बड़ा घोटाला सामने आया था और इसमें केबिनेट मंत्री, अधिकारी एवं एमबीबीएस के छात्रों सहित कई लोगों को गिरफ्तार किया गया था। अब व्यापम घोटाले की जांच सीबीआई कर रही है और इस घोटाले के दर्जनों आरोपियों की रहस्यमय मौत हो चुकी है।

महालेखाकार मध्य प्रदेश सौरभ के मलिक के अनुसार राज्य सरकार द्वारा व्यापमं में संचालक एवं नियंत्रक की नियुक्ति नियमों के सुनियोजित तरीके से अनदेखी करते हुए की गई थी, जिसके परिणामस्वरूप कुछ व्यक्तियों को अनुचित लाभ दिया गया। उन्होंने कहा कि सरकार ने डॉ. योगेश उपरीत को संचालक के पद पर 14 फरवरी 2003 को तथा डॉ. पंकज त्रिवेदी को नियंत्रक के पद पर तत्कालीन मंत्री के आदेश पर नियमों का उल्लंघन करते हुए सीधे नियुक्त किया गया था। योगेश उपरीत (2003) और पंकज त्रिवेदी (2011) की नियुक्तियां मंत्रियों के आदेश पर हुई थी। ये दोनों अधिकारी विभिन्न मामलों में गिरफ्तार किए जा चुके हैं।


- Advertisement -