4 महिला अतिथि विद्धानों की तबियत नाजुक

Posted On : 2018-03-13 12:59:10     

  4 mahila atithi viddhaanon kee tabiyat naajuk

2018-03-13 12:59:10

ग्वालियर. जिन्दगी और मौत से लड़ रही है 5 दिन से अन्न का एक दाना भी इन महिलाओं के पेट में नहीं गया है आज तक प्रशासन ने कोई सुध नहीं ली है। हमें ऐसा लग रहा है कि शासन हमारी मांगों को लेकर गंभीर नहीं  है, लेकिन फिर भी हम आशान्वित हैं शासन हमारी मांगों पर विचार करेगा, यह बात अतिथि विद्धानसंघ के अध्यक्ष विजय राजौरिया ने धरनास्थल पर महिला अतिथि विद्धान के बिगड़ती हुई तबियत के दौरान कही। 
पांच दिन से भूख हड़ताल पर हैं महिलायें
रायसेन के उदयपुरा से डॉ. पार्वती वियाग्रे,  गुना पीजी कॉलेज से डॉ. रानी, भिण्ड़ के मिहोना स्थिल बालाजी कॉलेज से डॉ. ममता प्रजापति (दिव्यांग भी हैं), सतना के निवाड़ी कॉलेज से डॉ. ज्योति शिखा है। यह अतिथि विद्धान हैं और पिछले पांच दिनों से भूख हड़ताल पर है। इन्होंने एक अन्न का दाना भी ग्रहण नहीं किया है। जब धरनास्थल पर देखा गया तो बेहोशी की अवस्था में धरना पर लेटी हुई मिली है। 
मंत्री के ब्यान को लेकर दुःखी हूं
हम सभी लोग 5 दिन से अनशन पर हैं लोकतंत्र में हमें अपनी मांगों को रखने का अधिकार हैं जब सरकार हमारी नहीं सुन रही है तो हम क्या करें धरना भी नहीं दे सकते हैं और हमारे मंत्री जी ब्यान दे रहें है कि महिलायें फोटो के लिये धरना पर बैठी हुई हैं। पिछले 20 वर्ष से अतिथि विद्धान हूं । 
नुसरत सुल्ताना, अतिथि विद्धान, भोपाल
हमारी मांग है
अतिथि विद्धानों की जो प्रमुख मांगे है, उनमें असिस्टेंट प्रोफेसर भती परीक्षा निरस्त करने सहित नियमितीकरण और संविदाकरण करने की मांग शामिल हैं। 
मंत्री ने जानकारी तलब की 
अतिथि विद्धान के अनशन को लेकर उच्च शिक्षामंत्री जयभानसिंह पवैया ने भोपाल में उच्चस्तरीय बैठक बुलाई है। जिसमें विभाग के प्रमुख सचिव, आयुक्त से लेकर अन्य अधिकारी भी मौजूद रहेंगे। इस अहम बैठक में अतिथि विद्धानों की मांगों के अलावा समस्याओं को लेकर हड़ताल कर विश्वविद्यालयीन कर्मचारियोें की मांगों पर विचार किया जायेगा।


- Advertisement -